पहले चीन का सामान भारत आता था, अब वहां की कंपनियां यहां आ रहीं हैं : प्रकाश जावेडकर

News Posted on

लखनऊ, 05 अक्टूबर (हि.स.)। देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ बनाने और रोजगार उत्पन्न करने के लिए जरूरी है कि निवेश बढ़े, वह निवेश देसी भी होना चाहिए और विदेशी भी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जब से भाजपा की सरकार बनी है। इसका सतत प्रयास किया जा रहा है और नतीजे भी सबके सामने आ रहे हैं। पहले चीन की मूर्तियों से लेकर छोटे सामानों से बाजार पटे रहते थे। अब चीन में निवेश करने वाली कंपनियां खुद भारत में आ रही हैं। ये बातें भारत सरकार में पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने कही। वह शनिवार को भाजपा के प्रदेश कार्यालय पर मीडिया से मुखातिब थे।

उन्होंने कहा कि रिजर्व बैँक ने पिछले सवा साल में पांचवी बार रेपो रेट में कमी की है। इससे ब्याज दर कम होगा, लोन सस्ता मिलेगा। इससे उद्योग और व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनहित का हमेशा ख्याल रखते हैं और उन्होंने बैंकों को निर्देशित किया है कि रिजर्व बैंक द्वारा किये गये रेपो रेट का सीधा फायदा आम लोगों को मिलना चाहिए। इसी का नतीजा है कि आज महंगाई पर नियत्रंण रखने में हम कामयाब रहे हैं।

पहले महंगाई दर ज्यादा होती थी, अब विकास दर

कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के जमाने में महंगाई दर ज्यादा हुआ करती थी और विकास दर कम। उनके समय में जब महंगाई दर में 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई तो विकास दर चार प्रतिशत पर रहा। लेकिन मोरी सरकार जनहित में चौबीस घंटे काम करती है। इसी का नतीजा है कि आज विकास दर हमेशा अधिक रहती है और महंगाई कम। इससे आमजन आज राहत महसूस कर रहा है। यह गतिशील भारत है। भारत में रोजगार उत्पन्न हो, इसकी विकास दर हमेशा विश्व की अपेक्षा ज्यादा ग्रोथ करे। इसके लिए हर वक्त निर्णय लिए जाते हैं।

कंपनियों को निवेश करने के लिए बना माहौल

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के हर वक्त निर्णय लिए जाने का ही नतीजा है कि विश्व में मंदी के बावजूद हमारे यहां इसका असर नहीं दिख रहा है। यहां विदेशी निवेश लगातार बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले यहां निवेश करने के लिए कोई तैयार नहीं होता था। यहां के बाजारों में मूर्तियां भी चीन की बिकती थीं, जबकि अब उल्टा हो रहा है। चीन की कम्पनियां भी यहां निवेश करने के लिए आगे बढ़ रही हैं। इसका कारण है हमने कंपनियों को आकर्षित करने के लिए कई तरह के टैक्स हटा दिये हैं। आज पंद्रह प्रतिशत टैक्स कम किया गया है। इससे दुनिया के लोग यहां आएंगे। इससे यहां रोजगार में वृद्धि होगी।

सरकार ने निवेश बढ़ाने को लिए कई निर्णय 

प्रकाश जावेड़कर ने कहा कि निवेश को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने पचास निर्णय लिए। अनेकों कार्य कंपनियों को निवेश करने के लिए किये गये। यही कारण है कि विदेशों के सामान पहले हमारे देश में आते थे, अब विदेशों की कंपनियां खुद हमारे देश में आ रही हैं। 

त्वरित निर्णय

उन्होंने पर्यावरण मंत्रालय के कामकाज के बारे में कहा कि पहले बजट पारित करने में 240 दिन लग जाते थे। अब यह काम तेजी से हो रहा है। पिछले चार माह में ही सरकार ने 110 निर्णय लिए हैं। इससे भारत में निवेश ज्यादा आएगा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने रोड, रेल, एयरपोर्ट पर निवेश ज्यादा करने का निर्णय लिया है। नितिन गडकरी ने तो कमाल ही कर दिया है। जो रोड सालों से खराब पड़ी थीं, आज वे त्वरित गति से बन रही हैं।

How useful was this News?

Click on a star to rate it!

Average rating / 5. Vote count: